जानिए काली मिर्च से जुड़े सेहत के अनेक लाभों के बारे में

काली मिर्च एक ऐसी चीज है जो हम सभी के रसोइयों में जरूर होती है क्योंकि काली मिर्च को हम चाहे चाय हो या सलाद लगभग प्रत्येक चीज का स्वाद बढ़ा देती है परंतु क्या आप जानते हैं कि यही प्रत्येक सलाद सब्जी चाय इत्यादि का स्वाद बढ़ा देने वाली काली मिर्च वास्तव में कितनी फायदेमंद है? आज हम आपको बताएंगे काली मिर्च से जुड़े सेहत के लगभग 10 फायदेमंद तथ्य…

खांसी जुखाम मे : खांसी जुखाम में काली मिर्च इतनी अधिक फायदेमंद है कि इसका उपयोग लगभग हर व्यक्ति अपनी खांसी और जुकाम ठीक करने में करता है चाहे वह खांसी जुकाम में राहत के लिए बनाए जाने वाले चाय हो या जुखाम से हो रहे बुखार को ठीक करने के लिए बनाए जाने वाला काडा हो और तो और खांसी जुखाम के लिए बनाए जाने वाले कफ सिरप इत्यादि में भी काली मिर्च का प्रयोग किया जाता है। यदि किसी व्यक्ति को कफ है तो उसे एक चम्मच शहद और अदरक के रस के साथ चुटकी भर काली मिर्च मिलाकर रात को सोने से पहले लेने से निश्चिंत ही फायदा मिलता है। इसके अतिरिक्त खांसी जुकाम में हम काली मिर्च को चाय में भी मिलाकर पी सकते हैं।

कैंसर से बचाव के रूप में : एक अध्ययन में ज्ञात हुआ कि काली मिर्च में एक रसायन होता है ‘PIPERIN’ नाम का जिसकी वजह से यह कैंसर से बचाव में मददगार होती है। काली मिर्च को हल्दी में मिलाकर लेने से इसका असर 2 गुना बढ़ जाता है और यह महिलाओं में होने वाले ब्रेस्ट कैंसर की रोकथाम में अत्यंत रूप से लाभकारी है अतः इसका सेवन हम पहले से ही बचाव के लिए कर सकते हैं।

जोड़ों में दर्द : काली मिर्च ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो रक्त संचार को बढ़ाने में सहायक होते हैं जिससे जोड़ों इत्यादि की मांसपेशियों में होने वाले दर्द से आराम मिल जाता है। इसको लगाने के लिए हमें किसी मालिश वाले तेल को हल्का गर्म करके उसमें काली मिर्च मिलाकर पीठ और कंधों इत्यादि की इस से मालिश कर सकते हैं और तो और काली मिर्च गठिया रोग में भी एक अत्यंत लाभकारी औषधि के रूप में जानी जाती है।

हाजमे में के लिए लाभकारी : लाल मिर्च की जगह यदि काली मिर्च इस्तेमाल की जाए तो एसिडिटी की समस्या बहुत जल्द दूर हो जाती है क्योंकि काली मिर्च के सेवन से हमारे पेट में अम्ल अधिक उत्पन्न होता है। जिससे हमारा हाजमा आसानी से हो जाता है। इसके सेवन से हमें पेट दर्द और पेट के फूलने या कब्ज जैसी बीमारियों से छुटकारा अति शीघ्र मिल जाता है।

स्किन प्रॉब्लम से छुटकारा : जैसा कि हमने आपको बताया की काली मिर्च रक्त संचार को तेज करने के लिए लाभदायक होती है और यदि काली मिर्च को दरदरा पीस कर चीनी तेल एलोवेरा इत्यादि के साथ मिक्स करके चेहरे पर एक स्क्रब की तरह इस्तेमाल किया जाए तो इससे चेहरे की गंदगी भी साफ हो जाएगी और चेहरे की स्किन पर निखार आएगा और रक्त संचार तेज होने की वजह से चेहरे पर चमक भी आएगी।

वजन कम करने के लिए : काली मिर्च के सेवन से पाचन प्रक्रिया तेज हो जाती है और खाना पचने में कोई परेशानी नहीं होती जिससे कम समय में अधिक कैलोरी खर्च होती है और इसी कारण काली मिर्च का सेवन करने से हमारा वजन कम होने में भी लाभ मिलता है। साथ ही यह हमारे शरीर में होने वाली अन्य बीमारियों को भी नष्ट करती है क्योंकि इसमें ऐसे पदार्थ पाए जाते हैं जो टॉक्सिंस को बाहर निकालने में अत्यंत महत्वपूर्ण है।

बालों के लिए : यदि आप काली मिर्च को दही मैं मिलाकर अपने बालों पर लगाते हैं तो आपको निश्चित ही रूसी की समस्या से लाभ मिलेगा और आपके बालों में चमक आएगी।
परंतु आपको ध्यान रखना है कि इसको लगाने के तुरंत बाद आपको शैंपू साबुन इत्यादि का इस्तेमाल नहीं करना है और काली मिर्च भी अधिक मात्रा में आपको नहीं लगानी है अन्यथा आपके सिर में जलन इत्यादि पैदा हो सकती है।

दातों की देखभाल में : थोड़ी सी काली मिर्च को नमक के साथ मिलाकर मसूड़ों पर मलने से मसूड़ों में सूजन और मुंह की बदबू जैसी समस्याओं से छुटकारा मिल जाता है तथा हमारे दांत भी हीरे की तरह चमकने लगते हैं और यदि पानी के स्थान पर थोड़ा सा लॉन्ग का तेल इस्तेमाल करते हैं तो परिणाम और भी अच्छे प्राप्त होंगे।

डिप्रेशन ठीक करने में : काली मिर्च हमारे शरीर में सेरोटोनिन हार्मोन बनाता है जिससे हमारा मूड अच्छा या बुरा रहता है। इस हार्मोन की कमी के कारण ही हमें डिप्रेशन जैसी बड़ी समस्या का सामना करना पड़ता है और यदि यह भरपूर मात्रा में हमारे शरीर में उपलब्ध हो तो हमें डिप्रेशन से छुटकारा मिल जाता है। इसलिए हमें अपनी दिनचर्या में काली मिर्च को अवश्य ही सेवन करना चाहिए जिससे हमारा मिजाज अच्छा रहे।

स्वाद बढ़ाने में अत्यंत उपयोगी : काली मिर्च को हर फीकी या कम स्वाद वाली चीज में जान डाल देने की वजह से जाना जाता है। आज कल के मॉर्डन जमाने में ज्यादातर लोग अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सलाद इत्यादि फीका ही खाना पसंद करते हैं परंतु यदि उसमें चुटकी भर काली मिर्च डाल दी जाए तो मसालों की कमी कमी नहीं लगती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *