शिक्षित होना है बहुत जरूरी…जानिए शिक्षित होने के फायदे

आज के समय में शिक्षा का महत्व बहुत अधिक बढ़ गया है प्रत्येक व्यक्ति शिक्षित होना चाहता है और अपने बच्चों को भी शिक्षित करना चाहता है और यह पूरे समाज के लिए बहुत अच्छी बात है क्योंकि एक शिक्षित मनुष्य अपने जीवन की ज्यादातर समस्याओं को अपने आप बिना किसी परेशानी के हल कर लेता है परंतु बहुत से लोगों की यह सोच है कि उन्हें पढ़ाई लिखाई सिर्फ अच्छी नौकरी के लिए करनी है जबकि ऐसा नहीं है शिक्षा का उद्देश्य सिर्फ नौकरी पाना नहीं होता, बल्कि अपने व्यक्तित्व में अपने विचारधारा में ऐसा परिवर्तन लाना होता है जिससे कभी भी छोटे विचार और असामाजिक बातों का उस पर प्रभाव ना पड़े।

एक दफ्तर में कार्य करने वाले कर्मचारी को शिक्षा की उतनी ही आवश्यकता है जितनी कि एक खेतों में दिन-रात काम करने वाले किसान को क्योंकि जब किसान को ज्ञान होगा तभी वह अपने खेतों के लिए उचित कीटनाशक तथा दबाव का इस्तेमाल कर सकेगा। यदि उसे इस बात का ज्ञान ही नहीं होगा तो उसकी फसल में उसे अधिकतम फायदा नहीं होगा तथा जीवन के अनेक पड़ाव में कोई भी व्यक्ति उसे बेवकूफ बनाकर ठग सकेगा।

हमें शिक्षा की आवश्यकता हर स्थान पर पड़ती है जैसे कि जब हम बैंक अस्पताल रेलवे स्टेशन हवाई अड्डा कहीं पर भी जाते हैं तो वहां पर सही तरह से वही व्यक्ति पेश आता है जो शिक्षित होता है। क्योंकि जो व्यक्ति अनपढ़ होता है वह सही और गलत का भेद नहीं कर पाता और उसे यह समझ नहीं आ पाता कि उसे करना क्या है।

हमारे देश में गरीबी का मुख्य कारण है बेरोजगारी और बेरोजगारी का मुख्य कारण है शिक्षा का न होना क्योंकि जब कोई व्यक्ति शिक्षित नहीं होता या कुशल नहीं हो पाता तो उसे रोजगार मिलने में परेशानी हो ना जायज सी बात है और रोजगार ने होने पर ही देश गरीबी की ओर बढ़ता है शिक्षा का अर्थ अंग्रेजी भाषा का बोध होना नहीं है परंतु फिर भी काफी लोगों का यह मानना है कि जो व्यक्ति अच्छी अंग्रेजी बोलता है या अंग्रेजी को अच्छी तरह समझ सकता है वही व्यक्ति पढ़ा लिखा है जबकि ऐसा कतई भी नहीं है। क्योंकि आप कितने समझदार हो यह इस पर नहीं निर्भर करता कि आप किस भाषा का बोध रखते हो ठीक जिस प्रकार जब व्यक्ति को प्यास लगी हो तो वह पानी पीने से मतलब रखता है ना कि यह देखने से की गिलास कांच का है या इस्पात का। क्योंकि उसका तात्पर्य पानी पीने से है पानी किस में पी रहा है इससे नहीं।

आजकल पूरी दुनिया डिजिटल होने में लगी है और यह हम सभी जानते हैं कि डिजिटल स्मार्टफोन कंप्यूटर इत्यादि में सभी लोगों का डाटा या प्रोग्राम हिंदी या अंग्रेजी में होते हैं। अतः इन्हें इस्तेमाल करने के लिए वही व्यक्ति सक्षम है जो शिक्षित है और मेरा ऐसा मानना है कि पढ़ाई लिखाई इस दुनिया का सबसे आसान काम है यदि हम उसे मन लगाकर करे तो।

हमारे समाज में राज नेता लोग जनता का बेवकूफ बनाकर उनसे वोट लेते रहते हैं और हमेशा उनसे झूठे वायदे कर कर अपने स्वयं का फायदा देखते हैं। वे ऐसा समाज के शिक्षित कम होने की वजह से कर पाते हैं क्योंकि जो व्यक्ति शिक्षित होता है वह किसी की बातों में ना कर उसके काम की ओर देखता है। वह भ्रष्टाचारियों को उनकी गलतियां गिर मारने का सामर्थ्य रखता है और ऐसे राजनेताओं के खिलाफ भी खड़ा होता है।

शिक्षित होना इसलिए भी बहुत ज्यादा जरूरी हो गया है क्योंकि आजकल अशिक्षित व्यक्ति एक अपराधी के समान हो गया है क्योंकि वह ना तो कानून के बारे में सही से जानता है ना अपने अधिकारों के बारे में उसे अपनी छोटी से छोटी गलती भी बहुत बड़ी लगती है और उसके साथ कोई भी अन्याय कर सकता है और उसे पता भी नहीं चलेगा ऐसे में सभी को शिक्षित होना बहुत अनिवार्य है और अपने मौलिक अधिकारों का भी बोध होना चाहिए जिससे कभी कठोर स्थिति में अपने और अपने परिवार इत्यादि का साथ दे सके।

पुराने समय में महिलाओं के ऊपर जो अत्याचार होते थे उन्हें आज खत्म किया जा सकता है शिक्षा के द्वारा यदि सभी महिलाएं शिक्षित होंगी तो वह अपने अधिकारों और कर्तव्यों को अच्छी तरह समझ सकेंगे और अपने ऊपर होने वाले किसी भी अत्याचार को सहन नहीं करेंगे उसके खिलाफ आवाज बुलंद करेंगे लेकिन ऐसा तभी होगा जब हमारा समाज शिक्षित होगा क्योंकि शिक्षित व्यक्ति ना तो अत्याचार कर सकता है और ना ही अत्याचार सहन करेगा शिक्षित होने पर हमारा आत्मविश्वास भी बढ़ जाता है और हम गलत के खिलाफ आवाज उठाने से नहीं डरते।

दोस्तों आजकल हमारा जीवन बहुत अधिक सुविधाजनक हो गया है परंतु इन सुविधाओं का अच्छी तरह लाभ उठाने के लिए भी हमें शिक्षित होना अनिवार्य है क्योंकि जब हम शिक्षित होंगे तभी सभी प्रकार की सुविधाओं को समझ सकेंगे और उनका लाभ उठा सकेंगे।

जैसे यदि किसी को अपने बैंक खाते से पैसे निकालने हैं तो आजकल उसे बैंक जाने की आवश्यकता नहीं है वह एटीएम या इंटरनेट बैंकिंग के जरिए भी पैसा निकाल सकता है परंतु उसके लिए भी उसे पढ़ा लिखा होना अनिवार्य है, अन्यथा वह एटीएम मशीन को नहीं चला पाएगा और ना ही नेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर सकेगा।

शिक्षित व्यक्ति अंतरिक्ष तक जा सकता है और विश्व की अच्छी से अच्छी कंपनी शिक्षित और होनहार छात्रों को अपने साथ कार्य में रखना चाहती है परंतु जो व्यक्ति शिक्षित नहीं है उसे कोई छोटे से छोटा काम भी आसानी से नहीं देता और यदि दे भी देता है तो उससे बहुत कम पैसों में बहुत अधिक काम करवाता है या दूसरे शब्दों में कहें तो उसका शोषण करता है और वह व्यक्ति यह जानता भी नहीं होता कि उसका शोषण किया जा रहा है।

समाज में होने वाले अनेक गलत रीति-रिवाजों सेबी शिक्षित होकर छुटकारा पाया जा सकता है क्योंकि जब पूरा समाज शिक्षित हो जाता है तो वह सही गलत का भेद समझने लगता है और ऐसी कुरीतियों को नजरअंदाज करता है जैसे कि दहेज प्रथा आदि।

आज हमने आपको बताया कि एक शिक्षित समाज के कितने फायदे हैं और यह सत्य है कि समाज यदि शिक्षित होता है तो बड़े से बड़ी समस्या अपने आप ही टल जाती है। कई बार किसी गांव या नगर में कुछ असामाजिक तत्व सांप्रदायिक हिंसा को भड़काने का कार्य करते हैं, परंतु यदि वहां का समाज शिक्षित होगा तो वह उनकी बातों में नहीं आएगा और बड़े दंगे होने से बचा लेगा परंतु जैसा कि हमने बताया अशिक्षित लोग सही और गलत में अंतर नहीं कर पाते और किसी की भी बातों में जल्दी से आ कर अपना नुकसान कर लेते हैं।
दोस्तों इसीलिए हमें अपने परिवार को पढ़ाना लिख आना चाहिए जिससे कि हमारा समाज शिक्षित बन सके और हमारा देश आगे बढ़ सके।
जय हिंद

2 Comments on “शिक्षित होना है बहुत जरूरी…जानिए शिक्षित होने के फायदे”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *